Sunday, August 1, 2010

अपनों को छोड़ कर परायो पर भरोसा
रखने वाला ।
कट जाते हैं जैसे बकरे अम्मा के खैर
मनाते मनाते ॥

No comments: